8,000 करोड़ डॉलर की मार्केट कैप वाले Dogecoin के क्रिएटर ने कमाए मात्र 3,000 डॉलर, प्रोजेक्ट द्वारा हुई इनकम से दिखी नाराजगी

Dogecoin News Today in Hindi

Dogcoin News Today in Hindi दोस्तों, आज हम आपको Dogecoin के मार्केट कैप तथा इस प्रोजेक्ट द्वारा हुई इनकम के बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं।

किसी चीज की भी आधी अधूरी जानकारी सही नहीं है इसलिए हम अपने चैनल द्वारा आपको सही सही जानकारी देने की चेष्टा करते हैं। आज हम आपको ऐसी क्रिप्टो करेंसी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी मार्केट कैप 8000 करोल डॉलर की है,

तथा इसके द्वारा की गई कमाई केवल 3000 डॉलर ही है।

dogecoin news today in hindi
dogecoin

80 बिलीयन डॉलर्स के करीब है डॉजकॉइन की टोटल मार्केट कैप

डॉजकॉइन आज के वक्त में मीम-कॉइन की सबसे ज्यादा पॉपुलर क्रिप्टोकरेंसीज में से एक मानी जाती है। पर आज के लोगों में इसके बारे में कुछ गलतफहमियां है जिसे दूर करते हुए बिली मार्कस जो डॉजकॉइन के को-क्रिएटर हैं, dogecoin news today in hindi

उन्होंने प्रोजेक्ट से जुड़ी कुल इनकम की सारी जानकारी  ट्विटर में दी तथा उनकी समीक्षा करने वाले लोगों को भी करारा जवाब दिया। लगभग 80 बिलीयन डॉलर्स के करीब डॉजकॉइन की टोटल मार्केट कैप है जो लगभग 600000 करोड रुपए के बराबर है।

अब आपको लगता होगा कि इस प्रोजेक्ट के कारण  प्रोजेक्ट के क्रिएटर्स ने बहुत पैसे कमाए होंगे, तो आपको गलत लग रहा है ।

Billy Markus ने डॉजकॉइन प्रोजेक्ट के डेवलपमेंट में कमाए मात्र 3,000 डॉलर

Billy Markus ने अपने  Shibetoshi Nakamoto नाम के ट्विटर अकाउंट में यह साफ बताया है कि उन्होंने अपने डॉजकॉइन प्रोजेक्ट के डेवलपमेंट में मात्र 3,000 डॉलर की धनराशि ही कमाई है, जो मात्र  2.26 लाख रुपए के लगभग  है।

अपनी भावनाओं को प्रकट करते हुए उन्होंने यह भी बताया है कि उनकी इतनी कम कमाई उन्हें काफी दुख पहुंचाती हैं। उन्होंने इस बात को काफी नमकीन अंदाज में सभी से शेयर किया है।

मार्कस ने अपने ट्विटर एकाउंट में यह अनुवादित किया है कि लोग उन्हें सोल्टी सोल्टी  कह कर पुकारते हैं, क्योंकि वह वाकई सोल्टी है। उन्होंने यह भी लिखा है की उन्होंने क्रिप्टो करेंसी बनाई जिसकी मार्केट कैप 80 बिलियन डॉलर है ,

इसे बनाने से उन्हें केवल 3000 डॉलर की ही कमाई हुई। आगे अपनी भावनाओं को प्रकट करते हुए उन्होंने यह लिखा है कि अजनबी लोग उन पर पूरे दिन यह बोलकर हमला करते हैं

कि यह पूरे दिन में लाखों रुपए कमाते हैं यह बात सुनकर वह सॉल्टी नहीं होंगे तो क्या होंगे।

Also Read- Upstox Refer and Earn in Hindi | Upstox Se Paise Kaise Kamaye Earn 500 Per Referral

प्रोजेक्ट द्वारा हुई इनकम से दिखी नाराजगी

एक टि्वटर यूजर ने डॉजकॉइन से हुई कमाई के बारे में  अपनी भावनाएं प्रकट करते हुए कहा है कि मार्कस द्वारा बनाई गई साधारण कोडिंग के लिए 3,000 डॉलर की धनराशि की इनकम कम नहीं है।

इस तर्क से असहमत होते हुए मार्कस ने लिखा है कि हो सकता है यह तर्क गलत नहीं है लेकिन उनके द्वारा इस प्रोजेक्ट में दिए गए कुल समय तथा उनके द्वारा की गई मेहनत को ध्यान में रखते हुए, उन्हें लगता है

कि उनके इस प्रोजेक्ट द्वारा हुई इनकम उनके लिए निम्नतम इनकम से भी कम है, जो उन्हें काफी निराश कर देती है।

Also Read- Business Idea: Cashew Wholesale Business Hindi कम लागत में शुरू करें काजू का बिजनेस, हर महीने होगी बंपर कमाई

प्रोजेक्ट से लेफ्ट लेंगे मेकर्स

र्ष 2015 में, किराया देने के लिए मार्कस ने अपने कॉइंस को बेच दिया जिसके कारण डॉजकॉइन के अन्य को- क्रिएटर जिनका नाम Jackson Palmar है

उन्होंने भी इस प्रोजेक्ट से लेफ्ट लेने का निर्णय किया था। इसके बाद मार्कस ने भी इस प्रोजेक्ट से लेफ्ट लेने के बारे में निर्णय ले लिया । एक टि्वटर यूज़र के प्रश्न का उत्तर देते हुए मार्कस ने यह एक्सेप्ट किया है

कि 2015 में उन्होंने अपने सारे कॉइन बेचने का फैसला किया , जिसके बात उन्हें अपने निर्णय पर बहुत निराशा हुई।

मार्कस ने शिवा इनु क्रिएटर्स की कड़े शब्दों में किए आलोचना

शिवा इनु के क्रिएटर्स के बारे में संकेत करते हुए मार्कस ने उन निवेशकों की कड़े शब्दों में आलोचना की है, जो इस तरह के प्रोजेक्ट को अट्रैक्टिव और अधिक पॉपुलर बनाने के लिए झूठे तथा फालतू वादे करके लोगों को गुमराह करते हैं।

क्रिप्टोपोटाटो के द्वारा रिपोर्ट दी गई है की एथेरियम की नई मेटैवर्स परियोजना कि शिबा इनू ने “यादृच्छिक मेटावर्स” और “नकली भूमि बेचने” के रूप में आलोचना करते हुए कहा कि 

वह इस परियोजना से नाराज होते यदि वह एक एसएचआईबी धारक थे।

Also Read- Tata Steel इस महिने कर रही है Tata neu super app को लॉन्च, जानें क्या है इसकी खासियत

Leave a Reply

Your email address will not be published.